Thursday, December 13, 2012

एक संगीतमय कहानी - महफि‍ल





 एक संगीतमय कहानी दीप्‍ति के साथ......महफि‍ल 


रचना - वि‍जय ठक्‍कर



सोहा और वि‍श्‍वराज दो पुराने साथी जब बरसों बाद मि‍ले,
तो यादों का सि‍लसि‍ला थमने का नाम ही नहीं ले रहा था...
और जब थमा तो........सुनि‍ये संगीत से सजी ये कहानी दीप्‍ति
के अंदाज में.....

                                    

दीप्‍ति सक्‍सेना





9 comments:

Anju (Anu) Chaudhary said...

बहुत ही बढ़िया ....its too good

DEEPTI said...

thank u so much....

संध्या शर्मा said...

दीप्ती जी की आवाज़ और अंदाज़ दोनों ही बहुत अच्छा लगा... शुभकामनायें

Ratan singh shekhawat said...

दीप्ती जी आपकी आवाज और प्रस्तुतिकरण का अंदाजा बहुत बढ़िया लगा|

DEEPTI said...

Dhanywad aap sabhi ka...

ब्लॉ.ललित शर्मा said...

कहानी का उम्दा प्रस्तुतीकरण ..... आभार

SUNIL CHIPDE ,BILASPUR said...

dipti ji ..... uttam hai kahani ki kahani

pcpatnaik said...

VERY EFFECTIVE VOICE..N PRESENTATION...THNX...TO ALL...

DEEPTI said...

thanx to all...

Post a Comment