Saturday, December 29, 2012

श्रद्धांजलि दामि‍नी


पूरे देश में पि‍छले 13 दि‍नों से हर जबान पर एक ही बात थी
 'बहुत बुरा हुआ'......
पूरा देश हि‍ला हुआ था, 
और आज जब दामि‍नी हमारा साथ छोड़कर चली गई 
तो हम सब स्‍तब्‍ध हैं.....हतप्रभ हैं.....हैरान हैं......
ऐसा लग रहा है जैसे दि‍ल और दि‍माग ने काम करना ही बंद कर दि‍या है.....
पर हमें सोचना होगा, इस आग को दि‍ल में जगा कर रखना होगा......
तब तक, जब तक दामि‍नी और ऐसी हर पीड़ि‍ता को इंसाफ न मि‍ले..... 
जब तक ये अपराध खत्‍म न हो जायें......
जब तक देश में नारी अपने आप को सुरक्षि‍त न महसूस करने लगे......

सीजी रेडि‍यो की तरफ से श्रद्धांजलि दामि‍नी को


                            

5 comments:

संध्या शर्मा said...

जनता ही जनार्दन है, उसे जनार्दन बनना ही होगा... श्रद्धांजलि दामिनी

Ratan singh shekhawat said...

श्रद्धांजलि दामिनी

लक्ष्मी नारायण लहरे "साहिल " said...

श्रद्धांजलि ...........

ब्लॉ.ललित शर्मा said...

घड़ियाली आंसू बहाकर, सत्ता बेवकूफ़ बनाती है
लाल किले की प्राचीरों से,बेबस सिसकियाँ टकराती हैं
अबलाओं की लाज लुट रही,इसकी किसको चिंता है।
लाल किले से लोकतंत्र आज हुआ शर्मिन्दा हैं।
जागो हिन्दवासियों अपराधी अभी तक जिंदा हैं॥

संगीता पुरी said...

बहुत सुंदर प्रस्‍तुति ..
श्रद्धांजलि !!

Post a Comment