Sunday, August 4, 2013

बैरागी चित्तौड़ - दूसरी कड़ी

सीजी रेडियो पर सुनिए राजस्थान के प्रसिद्ध लेखक "तन सिंह जी" की रचना "बैरागी चित्तौड़"। इसका धारावाहिक प्रसारण किया जा रहा है। प्रस्तुत है बैरागी चित्तौड़ की पहली किश्त । इसे स्वर दिया है संज्ञा टंडन जी ने। 





प्रस्तुतकर्ता - ललित शर्मा  

4 comments:

संध्या शर्मा said...

तन सिंह जी की सृजनशीलता को नमन… बहुत बढ़िया प्रस्तुतीकरण ...

Nasir bathi said...

bahoot badhiya prastutikaran.

pcpatnaik said...

PRANA NIKALA CHUKE HAIN...DEHA CHHATAPATA RAHA HAI....KYA KHUB...VEERA RASA SE OATAPROTA LINON KO SUNANE MEIN JO MAZA HAI...WO PADHANEIN PAR KAHAAN?...Sangya ji AAP KI AWAZA NE JAROORA CHANDA SITAARE JADA DIYE...BAHUT KHUB...DHANYABAD...

Ratan singh shekhawat said...

वीर रस से ओतप्रोत रचना शानदार आवाज में ! संज्ञा का आभार !!

Post a Comment